Saturday Trading Session: 18 मई, शनिवार को भी खुला रहेगा शेयर बाजार, NSE- BSE पर स्पेशल ट्रेडिंग सेशन, जानें डिटेल्स!

आपदा रिकवरी सिस्टम का परीक्षण करने के लिए BSE और NSE 18 मई 2024 को एक विशेष ट्रेडिंग सत्र आयोजित करेंगे। ट्रेडिंग दो सत्रों में होगी: प्राथमिक स्थल पर सुबह 9:15 से 10:00 बजे तक और आपदा पुनर्प्राप्ति स्थल पर सुबह 11:30 से दोपहर 12:30 बजे तक।
Saturday Trading Session 18 मई, शनिवार को भी खुला रहेगा शेयर बाजार,

शनिवार, 18 मई, 2024 को बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (BSE) और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (NSE) अपने आपदा रिकवरी सिस्टम का परीक्षण करने और प्रमुख व्यवधानों के लिए तैयारी सुनिश्चित करने के लिए एक विशेष लाइव ट्रेडिंग सत्र आयोजित करेंगे। ट्रेडिंग गतिविधि दो सत्रों में होगी।

Invest in Mutual fund, IPO etc with just Rs.0

पहला सत्र सुबह 9:15 बजे शुरू होगा और 10:00 बजे समाप्त होगा। इस सत्र के दौरान, ट्रेडिंग प्राथमिक साइट (PR) से की जाएगी। दूसरा सत्र सुबह 11:30 बजे शुरू होगा और दोपहर 12:30 बजे समाप्त होगा, जिसमें आपदा रिकवरी (DR) साइट से व्यापार किया जाएगा। इस अभ्यास को प्राथमिक साइट से आपदा पुनर्प्राप्ति साइट पर एक Intraday स्विचओवर अनुकरण करने के लिए डिज़ाइन किया गया है, जिससे एक्सचेंजों को प्राथमिक साइट पर एक बड़ी विफलता को संभालने के लिए अपने सिस्टम की क्षमता का मूल्यांकन करने की अनुमति मिलती है।

18 मई के सत्र के दौरान, इक्विटी और इक्विटी डेरिवेटिव सेगमेंट सहित सभी प्रतिभूतियां, अधिकतम पांच प्रतिशत मूल्य बैंड के तहत काम करेंगी। एक्सचेंजों ने कहा है कि उस दिन “प्रतिभूतियों या वायदा अनुबंधों में कोई बदलाव” की अनुमति नहीं दी जाएगी। पहले से ही दो प्रतिशत या उससे कम मूल्य बैंड के भीतर मौजूद प्रतिभूतियां अपने संबंधित बैंड में बनी रहेंगी।

दोनों एक्सचेंजों ने स्पष्ट किया है कि इक्विटी सेगमेंट और वायदा अनुबंधों के लिए मूल्य बैंड, जो प्राथमिक साइट पर दिन की शुरुआत में लागू होगा, आपदा रिकवरी साइट पर भी लागू होगा। इसका मतलब यह है कि आपदा पुनर्प्राप्ति स्थल पर इक्विटी सेगमेंट में प्री-ओपन सत्र के लिए समान संदर्भ मूल्य सीमा का उपयोग किया जाएगा।
इसके अतिरिक्त, प्राथमिक साइट पर समापन समय तक बाजार कारकों के कारण विकल्प अनुबंधों के मूल्य बैंड में कोई भी बदलाव आपदा पुनर्प्राप्ति साइट पर आगे बढ़ाया जाएगा।

इस विशेष व्यापारिक सत्र का प्राथमिक उद्देश्य व्यापारिक गतिविधि में महत्वपूर्ण व्यवधान की स्थिति में व्यापार की निरंतरता और एक्सचेंजों के सिस्टम की मजबूती सुनिश्चित करना है। यह सक्रिय उपाय भारत के वित्तीय बाजारों की स्थिरता और विश्वसनीयता बनाए रखने के लिए महत्वपूर्ण है।

Loading
Read More News
Share Market Opening रिकॉर्ड ऊंचाई पर खुला बाजार, सेंसेक्स-निफ्टी अबतक की ऑल टाइम हाई पर!

Share Market Opening: रिकॉर्ड ऊंचाई पर खुला बाजार, सेंसेक्स-निफ्टी अबतक की ऑल टाइम हाई पर!

सकारात्मक वैश्विक रुझानों और मजबूत विदेशी निवेश के चलते सेंसेक्स और निफ्टी ने बढ़त के साथ शुरुआत करते हुए नई ऊंचाई को छुआ। सेंसेक्स में 242.08 अंकों की बढ़त हुई, जबकि निफ्टी में 71.90 अंकों की बढ़त हुई।

STOP PAYING

₹ 20 BROKERAGE

ON TRADES !

Trade Intraday and Futures & Options