Bharti Hexacom Limited IPO Hindi

Bharti Hexacom Limited IPO के बारे में जानकारी

Bharti Hexacom Limited द्वारा 4,275 करोड़ रुपये मूल्य के IPO की योजना बनाई गई है, जिसमें 7.50 करोड़ शेयर बेचने की पेशकश शामिल है। कंपनी अपने ब्रांड के लिए एक सकारात्मक प्रतिष्ठा स्थापित करना और  लिस्टिंग के लाभ को हासिल करना चाहती है। 

Bharti Hexacom Limited IPO का ऑफर साइज 

Bharti Hexacom Limited की पहली सार्वजनिक पेशकश (IPO) के लिए ऑफर का आकार 4,275 करोड़ रुपये है, जिसमें 7.50 करोड़ शेयरों की बिक्री शामिल है। कंपनी का लक्ष्य ब्रांड प्रतिष्ठा बनाना और लिस्टिंग के लाभ हासिल करना है।

Bharti Hexacom Limited IPO की मुख्य तारीखें 

Bharti Hexacom IPO की तिथि3 अप्रैल 2024 से 5 अप्रैल 2024 तक
Bharti Hexacom IPO लिस्टिंग तिथि12 अप्रैल 2024
Bharti Hexacom IPO मूल्य542 से 570 रुपये प्रति शेयर
Bharti Hexacom IPO लॉट साइज26 शेयर
Bharti Hexacom IPO कुल निर्गम आकार4,275 करोड़ रुपये
Bharti Hexacom IPO आवंटन का आधार8 अप्रैल 2024
Bharti Hexacom IPO रिफंड की शुरुआत10 अप्रैल 2024
Bharti Hexacom IPO शेयरों का डीमैट में क्रेडिट10 अप्रैल 2024
Bharti Hexacom IPO जारी करने का प्रकारबुक बिल्ट इश्यू आईपीओ
Bharti Hexacom IPO लिस्टिंग परBSE, NSE

Bharti Hexacom Limited IPO के बारे में वित्तीय जानकारी

ParticularAs of 31 March 2022As of 31 March 2023As of 31 December 2023
Revenue (₹ in millions)54,05265,79054,208
Equity (₹ in millions)36,60542,09544,161
Expenses (₹ in millions)35,91237,93327,374
Profit and Loss After Tax (₹ in millions)16,7455,4902,816
Diluted EPS only (₹)33.4910.985.64
Return on Net Worth (%)46.8713.837.08
NAV per Equity Share (₹)73.2184.1988.32
Total Assets (in millions)1,66,7431,82,5291,96,030
Total Liabilities (in millions) 1,30,1381,40,4341,51,869
Debt Equity Ratio (in times) 1.941.481.41
Current Ratio (in times) 0.650.470.41
Net Profit Ratio (in %)8.37.25.4

Bharti Hexacom Limited IPO का विश्लेषण  

Bharti Hexacom का राजस्व मार्च 2023 में ₹65,790 मिलियन हो गया। उत्साहजनक संकेतक होने के बावजूद, बढ़ती इक्विटी और संपत्ति, तरलता के मुद्दे, गिरती लाभप्रदता और बदलते वित्तीय अनुपात चिंता का कारण हैं। IPO में निवेश करने के बारे में सोचने से पहले, संभावित निवेशकों को व्यापक शोध करना चाहिए।

राजस्व प्रवृत्ति : कंपनी का राजस्व मार्च 2022 में ₹54,052 मिलियन से मार्च 2023 में ₹65,790 मिलियन तक बढ़ गया। दिसंबर 2023 में समाप्त होने वाले चालू वर्ष के नौ महीनों की आय 54,208 मिलियन रुपये है, जो पिछले वर्ष के वार्षिक बेंचमार्क से अधिक है।

इक्विटी और देनदारियां : पिछले दशकों में, इक्विटी और कुल देनदारियां दोनों लगातार बढ़ी हैं, जो संभावित वृद्धि और विस्तार का संकेत देती हैं। लेकिन ऋण-से-इक्विटी अनुपात में गिरावट आई है, जो ऋण वित्तपोषण पर कम निर्भरता का संकेत देता है।

लाभप्रदता : दिसंबर 2023 तक, कर पश्चात लाभ (पीएटी) मार्च 2022 में ₹16,745 मिलियन से नाटकीय रूप से गिरकर ₹2,816 मिलियन हो गया था। लाभप्रदता में इस कमी से निवेशक चिंतित हो सकते हैं।

प्रति शेयर आय (EPS): विशेष रूप से, प्रति शेयर आय (EPS) मार्च 2022 में ₹33.49 से घटकर दिसंबर 2023 तक ₹5.64 हो गई, जो शेयरधारकों के लिए घटते मुनाफे का संकेत है।

नेट वर्थ पर रिटर्न (RoNW): RoNW 46.87% से गिरकर 7.08% हो गया, जिससे पता चलता है कि व्यवसाय अब शेयरधारक इक्विटी पर रिटर्न प्रदान करने में सक्षम नहीं है।

वित्तीय स्थिति : कुल संपत्ति में वृद्धि संभावित व्यवसाय विस्तार की ओर इशारा करती है। बहरहाल, वर्तमान अनुपात में कमी आई है, जो घटती तरलता और तत्काल दायित्वों को पूरा करने में संभावित चुनौतियों का संकेत देता है।

शुद्ध लाभ अनुपात: शुद्ध लाभ अनुपात 8.3% से गिरकर 5.4% हो गया, जो राजस्व के संबंध में लाभप्रदता में गिरावट का संकेत देता है।

Bharti Hexacom Limited IPO लाने का उद्देश्य 

Bharti Hexacom के IPO का मुख्य उद्देश्य ब्रांड के लिए प्रतिष्ठा हासिल करना और शेयर बाजार में सूचीबद्ध होने का लाभ प्राप्त करना है। चूंकि यह एक बिक्री प्रस्ताव है, इसलिए कंपनी द्वारा कोई पैसा नहीं जुटाया जाएगा।

Bharti Hexacom Limited IPO लाने के रिस्क 

तीव्र प्रतिस्पर्धा, उच्च मंथन दर, दूरसंचार नेटवर्क विकसित करने से जुड़े जोखिम, पिछले नुकसान और कानूनी कार्रवाइयां जो Bharti Hexacom के संचालन, वित्त और प्रतिष्ठा को नकारात्मक रूप से प्रभावित कर सकती हैं। 

  1. कंपनी को अतीत में घाटा हुआ है, और यह भविष्य में लाभप्रदता हासिल नहीं कर पाएगी या कायम नहीं रख पाएगी।
  1. मोबाइल दूरसंचार नेटवर्क की वृद्धि, विकास और रखरखाव से संबंधित जोखिम कंपनी को प्रभावित करते हैं। यदि इन जोखिमों का प्रबंधन नहीं किया गया और परिचालन लागत को नियंत्रण में नहीं रखा गया तो कंपनी की लाभप्रदता और व्यवसाय प्रभावित हो सकता है।
  1. भारत में मोबाइल दूरसंचार व्यवसाय में ग्राहकों के कम होने की दर बहुत अधिक है, इसलिए कंपनी यह गारंटी नहीं दे सकती है कि वह अपने सभी मौजूदा ग्राहकों को बनाए रखने में सक्षम होगी या नए ग्राहकों को जोड़ने में सक्षम होगी।
  1. कंपनी को कड़ी प्रतिस्पर्धा का सामना करना पड़ रहा है, जिससे इसकी कमाई और बाजार हिस्सेदारी पर असर पड़ सकता है।
  1. कंपनी और उसके प्रमोटर, चल रही कानूनी प्रक्रियाओं में शामिल हैं। इनमें से किसी भी कानूनी कार्रवाई का नकारात्मक परिणाम कंपनी के वित्त, संचालन, प्रतिष्ठा और व्यवसाय पर नकारात्मक प्रभाव डाल सकता है।

Bharti Hexacom Limited IPO के प्रतियोगी 

सूचीबद्ध कंपनियों में, भारती एयरटेल लिमिटेड ने उच्च राजस्व और लाभप्रदता का प्रदर्शन किया है, जबकि वोडाफोन आइडिया लिमिटेड को अपने नकारात्मक ईपीएस और आरओएनडब्ल्यू के कारण गंभीर समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। हालाँकि रिलायंस जियो इन्फोकॉम लिमिटेड का राजस्व मजबूत है, और  प्रति शेयर आय (ईपीएस) अपेक्षाकृत कम है।

CompanyType of FinancialTotal Revenue (₹ in lakhs)Face Value (₹)EPS (Basic)  (₹)EPS (Diluted)  (₹)RoNW (%)NAV per Equity Share (Basic) (₹)
Bharti Hexacom LimitedStandalone65,790510.9810.9813.8384.19
Bharti Airtel LimitedConsolidated1,391,448514.8014.5715.84136.72
Vodafone Idea LimitedConsolidated421,77210(8.43)(8.43)NA(15.28)
Reliance Jio Infocomm LimitedStandalone907,860104.051.078.4348.00

Bharti Hexacom Limited कंपनी के बारे में

Bharti Hexacom Limited, संचार समाधान प्रोवाइड करता है, जो भारत में राजस्थान और उत्तर पूर्व दूरसंचार सर्कल में ग्राहकों को सेवा प्रदान करता है, जिसमें अरुणाचल प्रदेश, मणिपुर, मेघालय, मिजोरम, नागालैंड और त्रिपुरा राज्य शामिल हैं। यह फिक्स्ड-लाइन टेलीफोन और ब्रॉडबैंड सेवाएं भी प्रदान करता है। कंपनी अपनी सेवाओं के विपणन के लिए “एयरटेल” नाम का उपयोग करती है।

कंपनी, टेक्नोलॉजी के विकास, नेटवर्क विकास और बुद्धिमान स्पेक्ट्रम उपयोग में लगातार निवेश करती है। इसने 31 दिसंबर, 2023 तक भविष्य के लिए तैयार डिजिटल बुनियादी ढांचे में 206 बिलियन रुपये का पूंजीगत व्यय निवेश किया था। 

कंपनी की राजस्व बाजार हिस्सेदारी 31 दिसंबर, 2023 तक उत्तर पूर्व सर्कल से 52.7% और राजस्थान से 40.40% थी। उत्तर पूर्व सर्कल में, कंपनी को संचार समाधान के शीर्ष प्रदाता के रूप में स्थान दिया गया है, और राजस्थान राज्य में, यह दूसरे स्थान पर है।

निगम द्वारा मोबाइल सेवाओं के लिए प्रति उपयोगकर्ता औसत राजस्व (एआरपीयू) में लगातार वृद्धि हुई, जो वित्तीय वर्ष 2021 के लिए 135 रुपये से बढ़कर 31 दिसंबर, 2023 को समाप्त हुए नौ महीनों के लिए 197 रुपये हो गई।

Bharti Hexacom Limited कंपनी का उद्योग क्षेत्र 

देश के आर्थिक विस्तार में दूरसंचार, एक प्रमुख भूमिका निभा रहा है। यह ई-कॉमर्स, बैंकिंग, मीडिया और मनोरंजन, स्वास्थ्य देखभाल, सूचना और प्रौद्योगिकी (आईटी), और लॉजिस्टिक्स जैसे कई व्यवसायों की नींव के रूप में कार्य करता है। वायर्ड या वायरलेस चैनलों के माध्यम से, उद्योग डेटा को सीमाओं के पार निर्बाध रूप से ले जाना आसान बनाता है और आर्थिक विकास पर बड़ा प्रभाव डालता है।

जैसे-जैसे समय के साथ नई टेक्नोलॉजी शामिल होती हैं, दूरसंचार उद्योग हमेशा बदलता रहता है। परिणामस्वरूप, दूरसंचार सेवाएँ अब दुनिया भर में अधिक व्यापक रूप से उपलब्ध हैं और उपभोक्ताओं के दैनिक जीवन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती हैं। विशेष रूप से COVID-19 महामारी के दौरान, दूरसंचार एक महत्वपूर्ण उपयोगिता साबित हुई, जिसने लोगों को वैश्विक लॉकडाउन के बीच भी जोड़े रखा।

दूरसंचार क्षेत्र मुख्य रूप से वायरलाइन, या फिक्स्ड-लाइन, सेवाओं और वायरलेस, या मोबाइल, सेवाओं से बना है। वित्तीय वर्ष 2024 के पहले नौ महीनों में, भारत में सभी दूरसंचार उपयोगकर्ताओं में वायरलेस सेवाओं का हिस्सा 97.3% था, शेष 2.7% के लिए वायरलाइन सेवाएं थीं।

Bharti Hexacom Limited IPO ऑफर का प्रकार 

Bharti Hexacom Limited का इरादा IPO में 4,275 करोड़ रुपये की कीमत पर 7.50 करोड़ शेयर बेचने की पेशकश करने का है। एक सकारात्मक ब्रांड छवि विकसित करना और शेयर बाजार में सूचीबद्ध होने से मिलने वाले लाभों का उपयोग करना कंपनी के लक्ष्यों में से एक है।
बेचने वाले शेयरधारक की जानकारी नीचे इस प्रकार है:

Name of the selling shareholderNumber of shares offered
Telecommunications Consultants IndiaLimited7.50 crore shares

Bharti Hexacom Limited IPO में कैसे इन्वेस्ट करें ?

आपको Bharti Hexacom Limited IPO के लिए ऐलिस ब्लू के माध्यम से आवेदन करने के लिए निम्नलिखित कार्रवाई करनी होगी:

  1. एक डीमैट और ट्रेडिंग खाता खोलें : यदि आपके पास पहले से कोई खाता नहीं है, तो आपको ऐलिस ब्लू के साथ एक डीमैट और ट्रेडिंग खाता खोलना होगा
  1. आईपीओ विवरण की जांच करें : एक बार जब आपका खाता सक्रिय हो जाता है, तो आप ऐलिस ब्लू प्लेटफॉर्म के IPO सेक्शन में Bharti Hexacom Limited IPO की डिटेल्स चेक कर सकते हैं। 
  1. बोली लगाएं : आप जितने शेयर खरीदना चाहते हैं, उनकी संख्या दर्ज करें और IPO के मूल्य बैंड के भीतर अपनी बोली लगाएं।
  1. आवेदन जमा करें : अपनी सभी डिटेल्स चेक करें, और अपना आवेदन जमा करें।

आप कुछ ही क्लिक में ऐलिस ब्लू में Bharti Hexacom Limited के IPO के लिए आवेदन कर सकते हैं!

  1. आवंटन स्थिति की जांच करें : आवंटन प्रक्रिया के बाद, आप यह देखने के लिए आवंटन स्थिति की जांच कर सकते हैं कि क्या आपको कोई शेयर दिया गया है।

*कृपया ध्यान रखें कि शेयर आवंटन आईपीओ की मांग के अधीन है और इसकी गारंटी नहीं है।

Bharti Hexacom Limited IPO का स्टेटस कैसे चेक करें ?

ऐलिस ब्लू में IPO की आवंटन स्थिति का पता लगाना आम तौर पर आसान है। कृपया इन सामान्य चरणों का पालन करें:

  1. अपने ऐलिस ब्लू खाते में लॉग इन करें : आप इसे ऐलिस ब्लू वेबसाइट या उनके ट्रेडिंग ऐप के माध्यम से कर सकते हैं।
  1. पोर्टफोलियो या आईपीओ क्षेत्र पर जाएं: ऐलिस ब्लू का प्लेटफ़ॉर्म कैसे तैयार किया गया है, इसके आधार पर, यह भिन्न हो सकता है, लेकिन सामान्य तौर पर, ‘पोर्टफोलियो’ या ‘आईपीओ’ क्षेत्र वह है जहां आप अपने आईपीओ आवेदन की स्थिति देख सकते हैं।
  1. आईपीओ आवंटन स्थिति खोजें : ‘आईपीओ आवंटन स्थिति’ या कुछ इसी तरह का एक उप-अनुभाग देखें। यह वह जगह है जहां आप उन आईपीओ की स्थिति देख सकते हैं जिनके लिए आपने आवेदन किया है।
  1. Bharti Hexacom Limited IPO का चयन करें : यदि आपने एक से अधिक आईपीओ के लिए आवेदन किया है, तो एक ड्रॉपडाउन मेनू या सूची हो सकती है जहां आप अपनी रुचि वाले आईपीओ का चयन कर सकते हैं। Bharti Hexacom Limited IPO का चयन करें।
  1. स्थिति जांचें : यहाँ आपके आपके आवेदन की स्थिति दिखाई जानी चाहिए। यह हिस्सा आपको बताएगा कि आपको शेयर आवंटित किए गए हैं या नहीं।

यदि आपको कोई समस्या आती है , तो आपको ऐलिस ब्लू की ग्राहक सहायता से संपर्क करने की सलाह दी जाती है। वहाँ आपको पूरी सहायता मिलेगी।

ऐलिस ब्लू के अलावा, Bharti Hexacom Limited IPO की आवंटन स्थिति की जांच निचे दिए गए अन्य तरीको से भी की जा सकती है:

रजिस्ट्रार की वेबसाइट : Bharti Hexacom Limited IPO रजिस्ट्रार, Kfin Technologies Limited की वेबसाइट पर जाएं। होमपेज पर “आईपीओ आवंटन स्थिति” विकल्प ढूंढें। अपने आवंटन की स्थिति की जांच करने के लिए, आपको अपना पैन, एप्लिकेशन या डीमैट खाता नंबर दर्ज करना होगा। अपने आईपीओ आवंटन की स्थिति देखने के लिए, “सबमिट” बटन पर क्लिक करें।

NSE और BSE : आप बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (BSE) और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (NSE) की आधिकारिक वेबसाइटों पर भी आवंटन की स्थिति की जांच कर सकते हैं। स्टेटस चेक करने के लिए आपको अपने पैन और एप्लिकेशन नंबर की आवश्यकता होगी।


कृपया ध्यान रखें कि आवंटन प्रक्रिया पूरी होने के बाद, आईपीओ विंडो बंद होने के कुछ दिनों बाद ही आवंटन स्थिति उपलब्ध होगी।

Bharti Hexacom Limited IPO ऑफर रजिस्ट्रार


Bharti Hexacom Limited IPO का रजिस्ट्रार Kfin Technologies Limited है। वे आईपीओ आवंटन और रिफंड प्रक्रियाओं को सुचारू रूप से सुनिश्चित करने के लिए जिम्मेदार हैं।

रजिस्ट्रार के लिए संपर्क जानकारी:

केफिन टेक्नोलॉजीज लिमिटेड (Kfin Technologies Limited)

सेलेनियम, टॉवर बी, प्लॉट नंबर 31 और 32, 

वित्तीय जिला नानकरामगुडा, सेरिलिंगमपल्ली

हैदराबाद 500 ०३२, तेलंगाना, भारत

ई-मेल: [email protected]

वेबसाइट: www.kfintech.com

Bharti Hexacom Limited IPO के बारे में पूछे जाने वाले सवाल

Bharti Hexacom Limited के IPO की आवंटन तिथि क्या है?

Bharti Hexacom Limited IPO की आवंटन तिथि 8 अप्रैल, 2024 है।

Bharti Hexacom Limited IPO का प्राइस बैंड क्या है?

Bharti Hexacom के इश्यू का प्राइस बैंड 542-570 रुपये प्रति शेयर है।

Bharti Hexacom Limited के IPO का आकार क्या है?

7.50 करोड़ शेयर बेचने की पेशकश के साथ, Bharti Hexacom Limited के IPO का आकार 4,275 करोड़ रुपये है। कंपनी एक मजबूत ब्रांड पहचान स्थापित करना चाहती है, और स्टॉक एक्सचेंज लिस्टिंग के लाभों का लाभ उठाना चाहती है।

Bharti Hexacom Limited IPO की लिस्टिंग तिथि क्या है?

Bharti Hexacom Limited IPO की लिस्टिंग की तिथि 12 अप्रैल, 2024 है।