Averaging In Stock Market In Hindi

स्टॉक मार्केट में एवरेजिंग क्या है? – Averaging Meaning in Stock Market in Hindi

शेयर बाजार में एवरेजिंग एक ऐसी रणनीति है जहां निवेशक किसी स्टॉक की कीमत गिरने पर उसके अधिक शेयर खरीदते हैं। इससे समय के साथ प्रति शेयर एवरेजिंग लागत कम हो जाती है, संभावित रूप से नुकसान कम हो जाता है या जब शेयर की कीमत अंततः बढ़ती है या बढ़ती है तो लाभ बढ़ता है।

अनुक्रमणिका:

स्टॉक मार्केट में एवरेजिंग क्या है? – Averaging Meaning in Hindi

स्टॉक मार्केट में औसतन एक रणनीति है जहां एक निवेशक प्रारंभिक खरीद की तुलना में कम कीमतों पर एक स्टॉक के अतिरिक्त शेयर खरीदता है। यह विधि प्रति शेयर समग्र औसत लागत को कम करती है, जो लाभदायक हो सकती है यदि स्टॉक की कीमत भविष्य में बढ़ती है।

विस्तार से बताएं तो, यदि एक निवेशक प्रारंभ में उच्च कीमत पर शेयर खरीदता है और स्टॉक की कीमत गिर जाती है, तो कम कीमत पर और अधिक खरीदने से सभी शेयरों की औसत लागत कम हो जाती है। यह एक बेहतर ब्रेक-इवन बिंदु और कीमतों के फिर से बढ़ने पर संभावित रूप से उच्च लाभ की ओर ले जा सकता है।

हालांकि, नीचे की ओर औसतन भी जोखिम ले कर आती है, विशेष रूप से एक गिरते हुए बाजार में। अगर स्टॉक की कीमत लगातार गिरती रहती है, तो यह बड़े समग्र नुकसान की ओर ले जा सकती है। यह रणनीति मानती है कि स्टॉक अंततः पलटाव करेगा, जो हमेशा मामला नहीं हो सकता है, विशेष रूप से वित्तीय समस्याओं वाली कंपनियों के साथ।

उदाहरण के लिए: मान लीजिए कि एक निवेशक 100 शेयर ₹200 प्रति शेयर के दर पर खरीदता है। यदि स्टॉक की कीमत ₹150 तक गिर जाती है, तो एक और 100 शेयर खरीदने से प्रति शेयर औसत लागत ₹175 तक कम हो जाती है।

शेयर बाज़ार में एवरेजिंग का उदाहरण – Averaging in Stock Market Example in Hindi

स्टॉक मार्केट में, औसतन का उदाहरण एक निवेशक द्वारा किसी कंपनी के 50 शेयर ₹100 प्रत्येक पर खरीदने से होता है। अगर स्टॉक ₹80 तक गिरता है, तो अन्य 50 शेयर खरीदने से प्रति शेयर औसत लागत ₹90 तक कम हो जाती है।

इस पर विस्तार करते हुए, अगर स्टॉक की कीमत बाद में ₹95 तक बढ़ जाती है, तो अब निवेशक लाभ में होता है क्योंकि औसत लागत वर्तमान बाजार मूल्य से कम है। यह रणनीति सुधारते हुए बाजार में, स्टॉक के मूल्य में प्रारंभिक गिरावट के बावजूद, लाभ की ओर ले जा सकती है।

हालांकि, जोखिमों पर विचार करना महत्वपूर्ण है। अगर स्टॉक लगातार गिरता रहता है, कहें ₹70 तक, तो निवेशक को अधिक नुकसान का सामना करना पड़ता है। नीचे की ओर औसतन का मानना है कि स्टॉक पलटाव करेगा, एक पूर्वानुमान जो घटते क्षेत्रों के स्टॉक या वित्तीय रूप से अस्थिर कंपनियों के लिए सही नहीं हो सकता है।

स्टॉक मार्केट में एवरेज कैसे निकालते हैं? – How To Calculate Average in Stock Market in Hindi

स्टॉक मार्केट में औसत लागत निकालने के लिए, स्टॉक पर खर्च की गई कुल राशि को जोड़ें और इसे खरीदे गए कुल शेयरों की संख्या से विभाजित करें। इससे प्रति शेयर औसत लागत मिलती है, जो वर्तमान शेयरों की संख्या के खिलाफ कुल निवेश को दर्शाती है।

उदाहरण के लिए, यदि आप ₹100 प्रत्येक में 100 शेयर खरीदते हैं, और फिर ₹80 में एक और 100 शेयर, तो आपका कुल निवेश ₹18,000 होता है। इसे कुल शेयरों (200) से विभाजित करके, आपका प्रति शेयर औसत लागत ₹90 होती है। यह औसत बाजार मूल्य के सापेक्ष आपकी स्थिति को समझने के लिए महत्वपूर्ण है।

हालांकि, याद रखना महत्वपूर्ण है कि नीचे की ओर औसतन से जोखिम बढ़ सकता है। हालांकि एक कम औसत लागत फायदेमंद लगती है, इसका मतलब घटते स्टॉक में अतिरिक्त निवेश भी होता है। इस रणनीति को सावधानीपूर्वक इस्तेमाल किया जाना चाहिए, स्टॉक के पलटाव की क्षमता और समग्र बाजार की स्थितियों को ध्यान में रखते हुए।

स्टॉक मार्केट में एवरेजिंग कैसे काम करती है? – How Does Averaging Work in the Stock Market in Hindi

स्टॉक मार्केट में औसतन तब काम करता है जब प्रारंभिक खरीद से कम कीमतों पर एक स्टॉक के अतिरिक्त शेयर खरीदे जाते हैं। यह रणनीति प्रति शेयर औसत लागत को कम करती है, जिससे जब स्टॉक की कीमत फिर से बढ़ती है तो हानि को कम करने या लाभ को बढ़ाने की संभावना होती है।

उदाहरण के लिए, यदि एक निवेशक पहले ₹200 प्रत्येक में 100 शेयर खरीदता है और स्टॉक की कीमत ₹150 तक गिर जाती है, तो कम कीमत पर एक और 100 शेयर खरीदने से प्रति शेयर औसत लागत ₹175 हो जाती है। कम हो चुकी औसत लागत से स्टॉक की कीमत सुधरने पर लाभप्रदता की संभावनाएं बेहतर हो सकती हैं।

हालांकि, औसतन से जोखिम भी बढ़ सकता है, विशेष रूप से अगर स्टॉक की कीमत लगातार गिरती रहती है। इसमें एक संभावित रूप से हारने वाली संपत्ति में और अधिक पूंजी निवेश करना शामिल है। इसलिए, स्टॉक के भविष्य के संभावनाओं और इसकी कीमत में गिरावट के पीछे के कारणों का आकलन करना औसतन का निर्णय लेने से पहले अत्यंत महत्वपूर्ण है।

स्टॉक मार्केट में एवरेजिंग के बारे में  त्वरित सारांश

  • स्टॉक मार्केट में औसतन का मतलब है कि पहली खरीद से कम कीमतों पर अधिक शेयर खरीदना, जिससे प्रति शेयर औसत लागत कम होती है, यह एक रणनीति है जो स्टॉक की कीमत बाद में बढ़ने पर लाभ की ओर ले जा सकती है।
  • स्टॉक्स में औसत लागत पाने के लिए, कुल खर्च को कुल शेयरों की संख्या से विभाजित करें। इससे प्रति शेयर औसत लागत प्रकट होती है, जो कुल निवेश को वर्तमान शेयर संख्या के संबंध में दर्शाती है।
  • स्टॉक मार्केट में औसतन में कम कीमतों पर अधिक शेयर खरीदना शामिल है, जिससे प्रति शेयर औसत लागत कम होती है। यह रणनीति जब स्टॉक की कीमत पुनः उठती है, तब हानियों को कम करने और लाभ को अधिकतम करने का लक्ष्य रखती है।
Invest in Mutual fund, IPO etc with just Rs.0

शेयर बाज़ार में एवरेजिंग के बारे में अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न

स्टॉक मार्केट में एवरेजिंगन क्या है?

स्टॉक मार्केट में औसतन का तात्पर्य प्रारंभिक खरीद की तुलना में कम कीमतों पर एक स्टॉक के अतिरिक्त शेयर खरीदने की रणनीति से है, जिसका उद्देश्य प्रति शेयर औसत लागत को कम करना और रिटर्न को बढ़ाना है।

स्टॉक मार्केट में एवरेजिंग के लिए सूत्र क्या है?

स्टॉक मार्केट में औसतन के लिए सूत्र है: औसत लागत प्रति शेयर = (कुल निवेशित राशि / कुल शेयरों की संख्या)। यह गणना निवेशकों को प्रति शेयर उनके निवेश की औसत लागत निर्धारित करने में मदद करती है।

मैं अपने स्टॉक्स का एवरेजिंग कब शुरू करूं?

जब आपको लगे कि स्टॉक की कीमत इसके मूल्य से काफी नीचे आ गई है और आपको इसके दीर्घकालिक संभावनाओं पर विश्वास है, तब आप अपने स्टॉक्स का औसतन शुरू करें, जिससे आप प्रति शेयर अपनी औसत लागत कम कर सकें।

ऑप्शन ट्रेडिंग में एवरेजिंग अच्छा है क्या?

विकल्प व्यापार में नीचे की ओर औसतन करना जोखिम भरा हो सकता है क्योंकि समय के साथ मूल्यह्रास होता है। हालांकि यह प्रति शेयर औसत लागत को कम कर सकता है, लेकिन अगर विकल्प बेकार समाप्त होता है तो हानि के प्रति संपर्क बढ़ाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

All Topics
Related Posts
Auto Parts Stocks With High Dividend Yield in Hindi
Hindi

उच्च लाभांश प्राप्ति वाले ऑटो पार्ट्स स्टॉक – Auto Parts Stocks With High Dividend Yield In Hindi

नीचे दी गई तालिका उच्चतम बाजार पूंजीकरण के आधार पर उच्च लाभांश प्राप्ति वाले ऑटो पार्ट्स स्टॉक दिखाती है। Name Market Cap (Cr) Close Price