Sensex Meaning Hindi

सेंसेक्स क्या होता है? – Sensex Meaning in Hindi

सेंसेक्स का पूरा नाम सेंसिटिव इंडेक्स है; यह BSE (बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज) का मापदंड इंडेक्स है। सेंसेक्स को 1986 में S&P BSE सेंसेक्स के नाम से बाजार में स्थापित किया गया था और यह भारत में सबसे पुराना इंडेक्स माना जाता है। सेंसेक्स BSE पर लिस्टेड 5700 से अधिक कंपनियों में से 30 बहुत बड़ी और सबसे ज्यादा व्यापार की जाने वाली कंपनियों का पालन करता है।

अनुक्रमणिका:

सेंसेक्स क्या है? – Meaning of Sensex in Hindi

सेंसेक्स का पूरा नाम सेंसिटिव इंडेक्स है; यह BSE (बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज) का मुख्य मापदंड इंडेक्स है। सेंसेक्स को 1986 में S&P BSE सेंसेक्स के रूप में बाजार में शुरू किया गया था और यह भारत का सबसे पुराना इंडेक्स माना जाता है। सेंसेक्स BSE पर लिस्टेड 5700 से अधिक कंपनियों में से 30 सबसे बड़ी और सबसे ज्यादा व्यापार की जाने वाली कंपनियों को ट्रैक करता है। ये 30 कंपनियां विभिन्न औद्योगिक क्षेत्रों से हैं जो भारतीय अर्थव्यवस्था और स्टॉक मार्केट को पूरी तरह से दर्शाते हैं।

सेंसेक्स को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर Eurex और ब्राज़िल, रूस, चीन, और दक्षिण अफ्रीका के विभिन्न प्रमुख एक्सचेंजों पर व्यापार किया जाता है।

सेंसेक्स का समय – Sensex Timings in Hindi

सेंसेक्स सोमवार से शुक्रवार सुबह 9:15 बजे से दोपहर 3:30 बजे तक इक्विटी सेगमेंट के समय का पालन करता है।

सेंसेक्स कैसे काम करता है? – How does Sensex Work in Hindi

जैसा कि ऊपर बताया गया है, सेंसेक्स में शीर्ष 30 सबसे प्रमुख कंपनियां शामिल हैं, इसलिए जब भी ये 30 स्टॉक चलते हैं, तो सेंसेक्स इन शेयरों के आनुपातिक रूप से चलता है।

नीचे सेंसेक्स शेयरों की सूची देखें:

Sl No.Stock NameSub-SectorWeightage in सेंसेक्स (%)
1RELIANCE IND.ENERGY12.6
2TCSSOFTWARE5.1
3HDFC BANKBANKING9.5
4INFOSYSSOFTWARE8.5
5ICICI BANKBANKING9.2
6HULFMCG3.2
7SBIBANKING3.3
8HDFCFIN. INSTITUTIONS6.9
9BHARTI AIRTELTELECOM2.9
10ITCFMCG6.1
11BAJAJ FINANCEFINANCE2.6
12KOTAK MAHINDRA BANKBANKING4.2
13HCL TECHNOLOGIESSOFTWARE1.7
14ASIAN PAINTSPAINTS2
15L&TENGINEERING4.1
16MARUTI SUZUKIAUTO1.7
17AXIS BANKBANKING3.3
18SUN PHARMAPHARMA1.6
19TITANCONSUMER DURABLES1.5
20WIPROSOFTWARE0.9
21ULTRATECH CEMENTCEMENT1.1
22NESTLEFOOD BEVERAGES1
23NTPCPOWER1.1
24M&MAUTO1.7
25POWER GRIDPOWER0.8
26TECH MAHINDRASOFTWARE1
27INDUSIND BANKBANKING1
28DR. REDDYS LABPHARMA0.8
29BAJAJ FINSERVFINANCE0.1
30TATA STEELSTEEL0.1

आप सोच रहे होंगे कि BSE पर 5700 से अधिक कंपनियां लिस्टेड हैं, तो सेंसेक्स में केवल 30 कंपनियों को ही क्यों शामिल किया गया है? एक कंपनी को शामिल होने के लिए कितनी बड़ी होनी चाहिए? सेंसेक्स कैसे गणना की जाती है?

सेंसेक्स के मतलब को जारी रखते हुए, यह भी महत्वपूर्ण है कि जानें कि सेंसेक्स कैसे बनता है! चलिए निचे जानते हैं कैसे यह किया जाता है।

सेंसेक्स कैसे बना है? – How is Sensex Constituted in Hindi

सेंसेक्स में कंपनी को शामिल करने से पहले निम्नलिखित बिंदुओं को ध्यान में रखा जाता है:

  • बाजार मूल्यांकन (Market Capitalization): कंपनी का बाजार मूल्यांकन इंडेक्स के बाजार मूल्यांकन का कम से कम 0.5% होना चाहिए।
  • व्यापार की बारकी (Frequency): कंपनी के शेयर का व्यापार पिछले एक साल में 100% होना चाहिए। सुरक्षा निलंबन इत्यादि जैसे विभिन्न कारणों के लिए अपवाद किए जा सकते हैं।
  • औसत दैनिक व्यापार और टर्नओवर (Average Daily Trades & Turnover): BSE पर सभी लिस्टेड कंपनियों में, शेयर पिछले एक साल के लिए औसत दैनिक व्यापार और टर्नओवर के मामले में शीर्ष 150 कंपनियों में होना चाहिए।
  • इतिहास (History): शेयर का BSE पर एक साल का लिस्टिंग इतिहास होना चाहिए।

सेंसेक्स की गणना कैसे कि जाति है? – How is Sensex Calculated in Hindi

सेंसेक्स में कंपनी को डालने से पहले कुछ बातें ध्यान में रखी जाती हैं:

बाजार मूल्य: कंपनी का पूरा मूल्य इंडेक्स के पूरे मूल्य का कम से कम 0.5% होना चाहिए।

व्यापार की बारकी: कंपनी के शेयर का पिछले साल में हर दिन व्यापार होना चाहिए। कुछ खास कारणों के लिए इसमें छूट भी दी जा सकती है।

रोज की व्यापार और पैसे की गतिविधि: BSE पर सबसे ज्यादा व्यापार और पैसे की गतिविधि वाली टॉप 150 कंपनियों में यह शेयर होना चाहिए।

इतिहास: कंपनी का शेयर BSE पर कम से कम एक साल से लिस्टेड होना चाहिए।

सेंसेक्स में निवेश कैसे करें? – How to Invest in Sensex in Hindi

आप सेंसेक्स में Index Mutual Funds और Exchange Traded Funds (ETFs) के माध्यम से निवेश कर सकते हैं। ये फंड्स उन शेयरों में निवेश करते हैं, जो Nifty या सेंसेक्स जैसे इंडेक्स के लाभ को दर्शाते हैं। Mutual Funds और ETFs में मुख्य अंतर यह है कि ETFs की कीमतें दिन भर में बदलती रहती हैं, जैसे शेयर, और इन्हें लाइव कीमतों पर खरीदा और बेचा जा सकता है।

वहीं, Mutual Funds की कीमतें केवल दिन के अंत में अपडेट होती हैं और इन्हें दिन के अंत की कीमत पर खरीदा और बेचा जा सकता है।

जैसा कि आपने पहले ही सिखा है, सेंसेक्स में भारत के सबसे बड़े उद्योगों से जुड़ी कंपनियां शामिल हैं, जो मिलकर भारत की आर्थिक गतिविधियों को दर्शाते हैं। उसी तरह, कुछ Sectoral Indices भी होते हैं जो किसी विशेष क्षेत्र के शेयरों का संग्रह करते हैं और उस क्षेत्र की कुल प्रदर्शन को दर्शाते हैं।

क्षेत्रीय सूची – Sectoral Indices in Hindi

कुछ क्षेत्रीय सूचियां नीचे दी गई हैं:

  • S&P BSE हेल्थकेयर: यह सूची भारत में हेल्थकेयर क्षेत्र के सम्पूर्ण व्यवहार और प्रदर्शन को दर्शाती है।
  • S&P BSE टेलीकॉम: यह सूची भारत में टेलीकॉम क्षेत्र के सम्पूर्ण व्यवहार और प्रदर्शन को दर्शाती है।
  • S&P BSE ऑटो: यह सूची भारत में ऑटोमोबाइल/ट्रांसपोर्टेशन उपकरण क्षेत्र के सम्पूर्ण व्यवहार और प्रदर्शन को दर्शाती है।
  • S&P BSE ऑयल & गैस: यह सूची भारत में ऑयल और गैस क्षेत्र के सम्पूर्ण व्यवहार और प्रदर्शन को दर्शाती है।
  • S&P BSE बैंकेक्स: यह सूची भारत में बैंकिंग क्षेत्र के सम्पूर्ण व्यवहार और प्रदर्शन को दर्शाती है।

त्वरित सारांश

  • सेंसेक्स BSE (बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज) का मापदंड सूची है। सेंसेक्स BSE पर सूचीबद्ध 30 बड़ी और सबसे ज्यादा व्यापारिक कंपनियों को ट्रैक करता है। ये 30 कंपनियां भारतीय आर्थिक प्रवृत्तियों और पूरे शेयर बाजार को दर्शाने वाले विभिन्न औद्योगिक क्षेत्रों से हैं।
  • सेंसेक्स सोमवार से शुक्रवार तक सुबह 9:15 बजे से दोपहर 3:30 बजे तक चलता है।
  • जब भी शीर्ष 30 प्रमुख कंपनियां बदलती हैं, सेंसेक्स इन स्टॉक्स के अनुपात में बदलता है।
  • सेंसेक्स में कंपनी शामिल करने से पहले बाजार मूल्यांकन, फ़्रीक्वेंसी, औसत दैनिक व्यापार, टर्नओवर, और इतिहास जैसे कई कारकों को ध्यान में रखा जाता है।
  • सेंसेक्स का गणना मुक्त फ्लोट बाजार मूल्यांकन विधि का उपयोग करके किया जाता है।
  • आप म्यूचुअल फंड्स और एक्सचेंज-ट्रेडेड फंड्स के माध्यम से सेंसेक्स में निवेश कर सकते हैं।
  • सेंसेक्स में विभिन्न औद्योगिक क्षेत्रों को ट्रैक करने वाली कई अन्य सूचियां भी हैं, जैसे S&P BSE हेल्थकेयर, S&P BSE टेलीकॉम, आदि।
All Topics
Related Posts
Aniket Singal Portfolio And Top Holdings In Hindi
Hindi

अनिकेत सिंगल का पोर्टफोलियो और टॉप होल्डिंग्स – Aniket Singal Portfolio And Top Holdings In Hindi

नीचे दी गई तालिका उच्चतम बाजार पूंजीकरण के आधार पर अनिकेत सिंगल के पोर्टफोलियो और शीर्ष होल्डिंग्स को दर्शाती है। Name Market Cap (Cr) Close

STOP PAYING

₹ 20 BROKERAGE

ON TRADES !

Trade Intraday and Futures & Options