STT and CTT Charges Hindi

STT और CTT शुल्क – STT and CTT Charges in Hindi

STT सरकार द्वारा लगाया जाता है जब आप बाजार में सम्पत्ति जैसे कि इक्विटी, म्यूचुअल फंड्स और फ्यूचर्स और विकल्प खरीदते और बेचते हैं।

CTT STT की तरह है और जब आप वस्त्र और विकल्प अनुबंध को खरीदते और बेचते हैं तो यह लगाया जाता है।

अनुक्रमणिका:

STT पूरा नाम और अर्थ – STT Full Form & Meaning in Hindi 

STT का पूरा नाम “Securities Transaction Tax” है। यह एक प्रत्यक्ष कर है जो सरकार द्वारा तब लगाया जाता है जब आप बाजार में सम्पत्तियों जैसे इक्विटी, म्यूचुअल फंड और फ्यूचर्स & विकल्प खरीदते और बेचते हैं। STT की दर तीन चीजों पर आधारित है:

  1. आप जिस प्रकार की सम्पत्ति में व्यापार करते हैं (इक्विटी, फ्यूचर्स & विकल्प, म्यूचुअल फंड्स आदि)
  2. यह खरीददारी या बिक्री का लेन-देन है।
  3. व्यापार की अवधि (इंट्राडे / इक्विटी डिलीवरी)

अगर आपको यह थोड़ा कठिन लग रहा है समझने में, तो नीचे पढ़ें ताकि आप समझ सकें कि बाजार में हर संभावित परिस्थिति में STT कैसे लगाया जाता है।

STT दर इक्विटी इंट्राडे पर – STT Rate On Equity Intraday in Hindi

इंट्राडे व्यापार पर सिक्योरिटीज ट्रांजैक्शन टैक्स केवल सम्पूर्ण बिक्री मौल्य पर 0.025% की दर पर लगेगा।

उदाहरण: मान लीजिए एक सोमवार की सुबह आपने ₹ 50,000 के हिस्से खरीदे और बाजार बंद होने से पहले उन्हें ₹ 60,000 पर बेच दिया। इस लेन-देन पर STT टैक्स कितना लगेगा, यहाँ देखें:

Sell Value of Shares STT Tax @ 0.025% 
₹ 60,000 ₹ 15

इक्विटी डिलिवरी पर STT टैक्स – STT Tax On Equity Delivery in Hindi

डिलिवरी के माध्यम से खरीदे गए हिस्सों पर STT लेन-देन की दोनों खरीददारी और बिक्री ओर पर 0.10% की दर पर लगता है।

उदाहरण: मान लीजिए आपने 2018 में ₹ 1,00,000 के हिस्से खरीदे और उन्हें 2020 में ₹ 1,50,000 के लिए बेच दिया। इस लेन-देन पर STT टैक्स कितना लगेगा, यहाँ देखें:

Shares ValueSTT Tax @ 0.10% 
Buy Value ₹ 1,00,000 + Sell Value ₹ 1,50,000 = ₹ 2,50,000 Total Shares Value₹ 250

इक्विटी फ्यूचर्स पर STT टैक्स – STT Tax On Equity Futures in Hindi

इक्विटी फ्यूचर्स पर सिक्योरिटी ट्रांजैक्शन टैक्स दर केवल लेन-देन की कुल बिक्री मूल्य पर 0.01% की दर पर लगती है। फ्यूचर्स के लिए STT दर इंट्राडे और स्थितिगत व्यापार दोनों के लिए समान रहती है।

उदाहरण: मान लीजिए आपने सोमवार को ₹ 1,00,000 के फ्यूचर्स अनुबंध में प्रवेश किया और उन्हें बुधवार को ₹ 1,20,000 के लिए बेच दिया। इस लेन-देन पर STT टैक्स कितना लगेगा, यहाँ देखें:

Sell Side Shares Value STT Tax @ 0.01% 
₹ 1,20,000 ₹ 12

इक्विटी विकल्पों पर STT टैक्स – STT Tax On Equity Options in Hindi 

इक्विटी विकल्पों पर सिक्योरिटी ट्रांजैक्शन टैक्स दर भी केवल लेन-देन की कुल बिक्री मूल्य पर 0.05% की दर पर लगती है। विकल्पों के लिए STT दर इंट्राडे और स्थितिगत व्यापार दोनों के लिए समान रहती है।

उदाहरण: मान लीजिए आपने सोमवार को ₹ 1,00,000 के विकल्प अनुबंध में प्रवेश किया और उन्हें बुधवार को ₹ 1,20,000 के लिए बेच दिया। इस लेन-देन पर STT टैक्स कितना लगेगा, यहाँ देखें:

Sell Side Shares Value STT Tax @ 0.05% 
₹ 1,20,000 ₹ 60

नोट: मुद्रा वायदा और विकल्प अनुबंधों के लिए STT शुल्क लागू नहीं हैं।

CTT पूरा नाम और अर्थ – CTT Full Form & Meaning in Hindi

CTT का पूरा नाम ‘कमोडिटी ट्रांजैक्शन टैक्स’ है। यह STT के समान है और जब आप कमोडिटी फ्यूचर्स और विकल्प अनुबंध को खरीदते और बेचते हैं तो इस पर लगता है। CTT टैक्स 2013 में जुलाई में प्रभाव में आया था और यह केवल गैर-कृषि वस्त्रादि पर लगता है जैसे की सोना, चांदी, तांबा, कच्चा तेल आदि।

CTT टैक्स वाणिज्यिक फ्यूचर्स पर – CTT Tax On Commodity Futures in Hindi

फ्यूचर्स पर कमोडिटी ट्रांजैक्शन टैक्स दर केवल सम्पूर्ण बिक्री मूल्य पर लागू होगी, जिसकी दर 0.01% है। फ्यूचर्स के लिए STT दर इंट्राडे और स्थितिक लेन-देन के लिए समान रहती है।

उदाहरण: मान लीजिए आपने सोमवार को ₹ 1,00,000 के लिए एक फ्यूचर्स अनुबंध में प्रवेश किया और बुधवार को ₹ 1,20,000 में उन्हें बेच दिया। इस लेन-देन पर कितना CTT टैक्स लागू होगा, देखिए:

Sell Side Shares Value CTT Tax @ 0.01% 
₹ 1,20,000 ₹ 12

CTT टैक्स वाणिज्यिक विकल्पों पर – CTT Tax On Commodity Options in Hindi

विकल्पों पर कमोडिटी ट्रांजैक्शन टैक्स दर केवल सम्पूर्ण बिक्री मूल्य पर लागू होगी, जिसकी दर 0.05% है। विकल्पों के लिए CTT दर इंट्राडे और स्थितिक लेन-देन के लिए समान रहती है।

उदाहरण: मान लीजिए आपने सोमवार को ₹ 1,00,000 के लिए एक विकल्प अनुबंध में प्रवेश किया और बुधवार को ₹ 1,20,000 में उन्हें बेच दिया। इस लेन-देन पर कितना CTT टैक्स लागू होगा, देखिए:

Sell Side Shares Value CTT Tax @ 0.05% 
₹ 1,20,000 ₹ 60

STT म्यूचुअल फंड्स में – STT In Mutual Funds in Hindi

सिक्योरिटी ट्रांजैक्शन टैक्स केवल सम्पत्ति-आधारित म्यूचुअल फंड्स पर ही लेन-देन के बिक्री पक्ष पर चार्ज किया जाता है। इसे यूनिट मूल्य के 0.001% दर पर चार्ज किया जाता है।

उदाहरण: मान लीजिए आपने 2018 में ₹ 1,00,000 के लिए सम्पत्ति-आधारित म्यूचुअल फंड्स खरीदे और 2020 में ₹ 1,50,000 में उन्हें बेच दिया। इस लेन-देन पर कितना STT टैक्स चार्ज होगा, देखिए:

Shares ValueSTT Tax @ 0.001% 
₹ 1,50,000₹ 1.5 

विषय को समझने के लिए और अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिए, नीचे दिए गए संबंधित स्टॉक मार्केट लेखों को अवश्य पढ़ें।

आयरन कोंडोर
स्वैप कॉन्ट्रैक्ट क्या है?
OFS बनाम IPO
FII बनाम DII
पुट विकल्प क्या होता है?

त्वरित सारांश

  • STT वह डायरेक्ट टैक्स है जो सरकार द्वारा शेयर बाजार में सिक्योरिटीज़ खरीदने और बेचने पर लगाया जाता है।
  • STT की दर तीन चीज़ों पर आधारित है:

         आप जिस प्रकार की सिक्योरिटी खरीदते हैं (इक्विटी, फ्यूचर्स और ऑप्शन, म्यूचुअल फंड आदि)

           यह खरीददारी या बिक्री का लेन-देन है।

  • लेन-देन की अवधि (इंट्राडे / इक्विटी डिलिवरी)
  • इंट्राडे व्यापार, इक्विटी फ्यूचर्स और ऑप्शन, और सम्पत्ति-आधारित म्यूचुअल फंड्स पर STT टैक्स केवल बिक्री पक्ष पर चार्ज किया जाएगा।
  • डिलिवरी के माध्यम से खरीदे गए शेयरों पर STT दोनों खरीददारी और बिक्री पक्ष पर चार्ज होता है।
  • कमोडिटी ट्रांजैक्शन टैक्स STT के समान है और जब आप कमोडिटी फ्यूचर्स और ऑप्शन्स संविदाएँ खरीदते और बेचते हैं तब इसे लगाया जाता है।
  • CTT टैक्स केवल गैर-कृषि सामग्री पर चार्ज किया जाता है।

अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न

इंट्राडे व्यापार में STT चार्जेस को कैसे कम किया जा सकता है?

STT चार्जेस का पूरा नाम सिक्योरिटीज ट्रांजैक्शन टैक्स है, इन चार्जेस को भारत सरकार लेन-देन की मौलिक मूल्य पर नियंत्रित किया जाता है। इसलिए, तकनीकी रूप से हम इन चार्जेस