January 16, 2024

विदेशी संस्थागत निवेशकों के प्रकार - Types of Foreign Institutional Investors in Hindi

विदेशी संस्थागत निवेशकों के प्रकार – Types of Foreign Institutional Investors in Hindi 

विदेशी संस्थागत निवेशकों के प्रकार:

  • हेज फंड्स (Hedge Funds)
  • पेंशन फंड्स (Pension Funds)
  • म्यूचुअल फंड्स (Mutual Funds)
  • इन्वेस्टमेंट बैंक्स (Investment Banks)
  • इंश्योरेंस कंपनियां (Insurance Companies)
  • सॉवरेन वेल्थ फंड्स (Sovereign Wealth Funds)
  • एंडोमेंट्स (Endowments)

अनुक्रमणिका:

FII क्या है? – FII Meaning in Hindi 

FII, या विदेशी संस्थागत निवेशक, एक निवेशक या निवेश फंड होता है जो किसी देश के बाहर पंजीकृत होता है, लेकिन जो देश में निवेश कर रहा होता है। ये निवेशक आमतौर पर बड़े संस्थान होते हैं, जैसे कि पेंशन फंड्स, म्यूचुअल फंड्स, बीमा कंपनियां, और एंडोमेंट्स, जो किसी देश के प्रतिभूतियों और अन्य वित्तीय संपत्तियों में निवेश करते हैं।

FIIs अपनी बड़ी निवेश पूंजी और अपने बड़े व्यापारों के कारण बाजारों पर प्रभाव डालने की क्षमता के लिए जाने जाते हैं। इन्हें अंतरराष्ट्रीय पूंजी प्रवाह में योगदान देने वाला माना जाता है और अक्सर देशों द्वारा इसलिए चाहा जाता है क्योंकि ये घरेलू बाजार में विदेशी निवेश लाते हैं, जो एक देश के वित्तीय बाजारों के विकास में मदद कर सकते हैं।

FII  के प्रकार – Types of FII in Hindi 

FII  के प्रकारों में हेज फंड, पेंशन फंड, म्यूचुअल फंड, निवेश बैंक, बीमा कंपनियां, सॉवरेन वेल्थ फंड और बंदोबस्ती सहायक संस्थान जैसी विविध संस्थाएं शामिल हैं।

हेज फंड्स – Hedge Funds in Hindi 

हेज फंड्स विशेषज्ञ निवेश फंड होते हैं जो विविध और अक्सर आक्रामक रणनीतियों का उपयोग करते हैं ताकि प्रतिफल को अधिकतम कर सकें। ये आमतौर पर उच्च जोखिम वाले होते हैं और अनुभवी निवेशकों तक सीमित होते हैं जो महत्वपूर्ण लाभ या हानि को संभाल सकते हैं।

हेज फंड्स कम नियमन के साथ कार्य करते हैं और लिवरेजिंग, शॉर्ट सेलिंग और जटिल वित्तीय उपकरणों में ट्रेडिंग जैसी विविध रणनीतियों का उपयोग करते हैं। इनका लक्ष्य उच्च प्रतिफल प्राप्त करना होता है, अक्सर मानक बाजार सूचकांकों को पछाड़ते हुए। हालांकि, इनकी आक्रामक रणनीतियां महत्वपूर्ण जोखिम भी ला सकती हैं, जिससे ये मुख्य रूप से अनुभवी निवेशकों के लिए उपयुक्त होते हैं जो इन्हें समझते हैं और इनमें निवेश कर सकते हैं। हेज फंड्स में निवेश करने के लिए आमतौर पर आपको एक उच्च आय वाला या धनी व्यक्ति होना चाहिए। ये फंड अक्सर बड़े प्रारंभिक निवेश की मांग करते हैं और अनुभवी निवेशकों के लिए अधिक उपयुक्त होते हैं।

पेंशन फंड्स – Pension Funds in Hindi 

पेंशन फंड्स वे निवेश पूल हैं जो कामगारों से योगदान एकत्रित करते हैं और उन्हें सेवानिवृत्ति आय प्रदान करने के लिए निवेश करते हैं। ये फंड्स दीर्घकालिक, स्थिर वृद्धि पर केंद्रित होते हैं ताकि सेवानिवृत्त लोगों के लिए एक सुरक्षित वित्तीय भविष्य सुनिश्चित किया जा सके।

पेंशन फंड्स सेवानिवृत्ति योजना में महत्वपूर्ण होते हैं और जोखिम को कम करने के लिए बॉन्ड्स और स्टॉक्स जैसी संपत्तियों में सतर्कता से निवेश करते हैं। उनकी निवेश रणनीति समय के साथ फंड की सोल्वेंसी सुनिश्चित करने के लिए डिजाइन की गई है, मुख्य लक्ष्य यह है कि सेवानिवृत्तिकर्मियों को दीर्घकालिक भुगतान की प्रतिबद्धताओं को पूरा किया जा सके।

म्यूचुअल फंड्स – Mutual Funds in Hindi

म्यूचुअल फंड्स वे निवेश वाहन होते हैं जो कई निवेशकों से पैसे एकत्रित करके स्टॉक्स, बॉन्ड्स या अन्य प्रतिभूतियों के विविधित पोर्टफोलियो में निवेश करते हैं। ये वित्तीय पेशेवरों द्वारा प्रबंधित होते हैं जिनका उद्देश्य निवेशकों को अच्छा प्रतिफल प्रदान करना होता है।

ये फंड्स व्यक्तिगत निवेशकों को विभिन्न संपत्तियों और पेशेवर प्रबंधन तक पहुंच प्रदान करते हैं। संसाधनों को एकत्रित करके, निवेशक विविधीकरण से लाभान्वित होते हैं, जो जोखिम को कम कर सकता है। म्यूचुअल फंड्स उनकी निवेश रणनीति के आधार पर विभिन्न प्रकार के प्रतिफल का लक्ष्य रखते हैं, जो कंजर्वेटिव इनकम-केंद्रित फंड्स से लेकर आक्रामक वृद्धि-उन्मुख फंड्स तक हो सकते हैं।

वे व्यक्तियों के लिए व्यापक बाजार खंडों में निवेश करने का सुलभ तरीका प्रदान करते हैं। आप एलिस ब्लू जैसे प्लेटफॉर्म्स के साथ एक ब्रोकरेज अकाउंट खोलकर म्यूचुअल फंड्स में निवेश कर सकते हैं। वे आपके निवेश लक्ष्यों के अनुरूप विभिन्न जोखिम स्तर प्रदान करते हैं।

इन्वेस्टमेंट बैंक्स – Investment Banks in Hindi

इन्वेस्टमेंट बैंक्स वित्तीय संस्थान होते हैं जो बड़े और जटिल वित्तीय लेनदेन में विशेषज्ञ होते हैं। वे प्रतिभूतियों का व्यापार और विलय और अधिग्रहणों पर सलाह देने जैसी सेवाएं प्रदान करते हैं।

ये बैंक वित्तीय बाजारों में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं, कंपनियों को आईपीओ के माध्यम से सार्वजनिक जाने में मदद करके, विलय प्रबंधन करके, और अधिग्रहणों पर सलाह देकर। वे विभिन्न प्रतिभूतियों में भी निवेश करते हैं, अपने ग्राहकों के लिए सर्वोत्तम प्रतिफल प्राप्त करने के लिए पैसा प्रबंधित करते हैं।

उनका काम कंपनियों की वृद्धि में मदद करने और बाजार को कुशलता से काम करने में महत्वपूर्ण होता है। इन्वेस्टमेंट बैंक्स अधिकतर बड़े निवेशकों या कंपनियों के लिए होते हैं, आमतौर पर व्यक्तिगत छोटे निवेशकों के लिए नहीं। वे कंपनी के सार्वजनिक रूप से पहली बार शेयर बेचने पर शेयर खरीदने में मदद करते हैं।

बीमा कंपनियां – Insurance Companies in Hindi

बीमा कंपनियां पॉलिसीधारकों से प्रीमियम एकत्रित करती हैं और भविष्य के दावों के लिए इस पैसे का निवेश करती हैं। वे विभिन्न प्रकार की संपत्तियों में अपने निवेश को फैलाते हैं।

ये कंपनियां इस लक्ष्य के साथ काम करती हैं कि उनके पास पर्याप्त तरल संपत्तियां हों ताकि पॉलिसीधारकों द्वारा किए गए किसी भी दावे को कवर किया जा सके, साथ ही वे अपनी वित्तीय जिम्मेदारियों का समर्थन करने के लिए प्रतिफल भी कमाते हैं। उनकी निवेश रणनीतियां सावधानीपूर्वक योजनाबद्ध होती हैं ताकि वित्तीय रूप से स्वस्थ रह सकें और अपने ग्राहकों का विश्वास बनाए रख सकें।

वे दावों के भुगतान के लिए तैयार रहने और अपने निवेशों से लाभ कमाने की इच्छा के बीच संतुलन

बनाते हैं। जब आप बीमा खरीदते हैं, तो आपके प्रीमियम का निवेश बीमा कंपनी द्वारा किया जाता है। कुछ बीमा उत्पाद, जैसे कि एन्युइटीज, आपको अधिक सीधे निवेश करने देते हैं।

सॉवरेन वेल्थ फंड्स – Sovereign Wealth Funds in Hindi

सॉवरेन वेल्थ फंड्स राज्य स्वामित्व वाले निवेश फंड होते हैं जो किसी देश के रिजर्व का प्रबंधन करते हैं। वे देश की आर्थिक स्थिरता और विकास का समर्थन करने के लिए विभिन्न संपत्तियों में निवेश करते हैं और इनका ध्यान दीर्घकालिक पर होता है।

ये फंड्स घरेलू और अंतरराष्ट्रीय संपत्तियों में निवेश करते हैं ताकि राष्ट्र की संपदा को संरक्षित कर सकें और उसे बढ़ा सकें। वे देश की अर्थव्यवस्था को स्थिर करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं और वैश्विक वित्तीय बाजारों पर बड़ा प्रभाव डाल सकते हैं।

उनके निवेश राष्ट्रीय हितों और आर्थिक उद्देश्यों का समर्थन करने के लिए रणनीतिक रूप से किए जाते हैं। व्यक्तिगत निवेशक आमतौर पर सीधे सॉवरेन वेल्थ फंड्स में निवेश नहीं कर सकते। बड़े सरकारी-संचालित फंड्स विभिन्न चीजों में निवेश करते हैं ताकि देश की अर्थव्यवस्था की मदद की जा सके।

एंडोमेंट्स – Endowments in Hindi

एंडोमेंट्स वे फंड होते हैं जो गैर-लाभकारी संगठनों द्वारा, जैसे कि विश्वविद्यालयों द्वारा, उनके चल रहे मिशन का समर्थन करने के लिए स्थापित किए जाते हैं। वे दीर्घकालिक वित्तीय स्वास्थ्य पर केंद्रित होते हैं और आय उत्पन्न करने पर ध्यान देते हैं।

ये फंड्स स्थिर आय प्रदान करते हैं जिसका उपयोग दान, शिक्षा, या अनुसंधान जैसी चीजों के लिए किया जा सकता है क्योंकि वे समय के साथ बढ़ने के लिए प्रबंधित किए गए होते हैं। एंडोमेंट्स आमतौर पर विकास और आय के संतुलन के लिए विभिन्न संपत्तियों में निवेश करते हैं।

उनका लक्ष्य संगठन की वित्तीय स्थिरता सुनिश्चित करना है, कई वर्षों तक इसके मिशन का समर्थन करना। एंडोमेंट्स में व्यक्तियों द्वारा सीधे निवेश के लिए खुले नहीं होते हैं। वे दानों के माध्यम से बढ़ते हैं और उन संगठनों द्वारा प्रबंधित किए जाते हैं जिनका वे समर्थन करते हैं, जैसे कि विश्वविद्यालय।

भारत में शीर्ष 10 विदेशी संस्थागत निवेशक – Top 10 Foreign Institutional Investors in Hindi 

भारत में शीर्ष 10 विदेशी संस्थागत निवेशक इस प्रकार हैं:

यूरोपैसिफिक ग्रोथ फंड – Europacific Growth Fund List in Hindi 

यूरोपैसिफिक ग्रोथ फंड मुख्य रूप से यूरोप भर में इक्विटीज में निवेश करता है और साथ ही विश्व के अन्य महाद्वीपों में भी निवेश करता है, दीर्घकालिक वृद्धि के लिए लक्ष्य बनाते हुए। यह उन कंपनियों का चयन करता है जिनमें बढ़ी हुई आय की संभावना होती है, महत्वपूर्ण वृद्धि अवसरों वाले क्षेत्रों पर ध्यान केंद्रित करते हुए। यहाँ भारत में यूरोपैसिफिक ग्रोथ फंड की होल्डिंग्स हैं:

StockHolding Value (₹ Cr.)Quantity HeldSep 2023 Change %Sep 2023 Holding %Jun 2023 %Mar 2023 %
Bharti Airtel Ltd.13,701.4133,744,0490.3%2.2%1.9%2.1%
Godrej Consumer Products Ltd.1,160.310,323,9950%1.0%1.0%1.0%
Kotak Mahindra Bank Ltd.12,529.266,045,5750%3.3%3.3%3.3%
Jio Financial Services Ltd.2,301.698,231,1350%1.6%
Reliance Industries Ltd.25,159.297,278,649-0.2%1.5%1.7%1.7%

सिंगापुर सरकार – Government of Singapore Funds List in Hindi 

सिंगापुर सरकार की एक निवेश शाखा, यह फंड वैश्विक निवेश रणनीति के साथ एक विविध पोर्टफोलियो का प्रबंधन करता है। यह दीर्घकालिक मूल्य पर केंद्रित है, दुनिया भर के विभिन्न क्षेत्रों में निवेश करता है। यहाँ भारत में सिंगापुर सरकार की होल्डिंग्स हैं:

STOCKHOLDING VALUE (RS.)QTY HELDSEP 2023 CHANGE %SEP 2023 HOLDING %JUN 2023 %MAR 2023 %
Shriram Finance Ltd.3,477.8 Cr17,007,6581.3%4.5%3.3%
Tata Steel Ltd.2,789.9 Cr202,679,1820.5%1.7%1.2%1.3%
Sona BLW Precision Forgings Ltd.2,416.2 Cr37,652,3430.5%6.4%6.0%5.4%
Max Financial Services Ltd.679.3 Cr7,137,7730.3%2.1%1.7%1.7%
Max Healthcare Institute Ltd.4,728.8 Cr69,608,1040.2%7.2%6.9%6.3%
Apollo Tyres Ltd.431.6 Cr9,647,3990.2%1.5%1.3%

ओपेनहाइमर फंड्स – Oppenheimer Funds List in Hindi 

ओपेनहाइमर फंड्स विविध निवेश रणनीतियों के लिए जाना जाता है। यह फंड विभिन्न वर्गों में संपत्तियों का प्रबंधन करता है, जैसे कि इक्विटीज, निश्चित आय और वैकल्पिक निवेश। यह निवेश की एक श्रृंखला की जरूरतों को पूरा करता है। यहाँ भारत में ओपेनहाइमर फंड्स की होल्डिंग्स हैं:

STOCKSTOTAL NO. SHARES HELDPERCENT HOLDING
Invesco Oppenheimer Developing Markets Fund6,430,8102.31%
Invesco Oppenheimer Developing Markets Fund6,430,8102.31%
Invesco Oppenheimer Developing Markets Fund6,430,8102.31%

अबू धाबी निवेश प्राधिकरण – Abu Dhabi Investment Authority List in Hindi 

अबू धाबी निवेश प्राधिकरण दुनिया के सबसे बड़े सॉवरेन वेल्थ फंड्स में से एक है, यह अबू धाबी सरकार की ओर से निवेश करता है। ध्यान विविधीकरण और विभिन्न वैश्विक बाजारों में दीर्घकालिक मूल्य पर केंद्रित है। यहाँ भारत में अबू धाबी निवेश प्राधिकरण की होल्डिंग्स हैं:

STOCKHOLDING VALUE (RS.)QTY HELDSEP 2023 CHANGE %SEP 2023 HOLDING %JUN 2023 %MAR 2023 %
Sula Vineyards Ltd.119.0 Cr2,385,6321.5%2.8%1.3%1.3%
CMS Info Systems Ltd.124.4 Cr3,288,8260.7%2.1%1.4%
Aavas Financiers Ltd.266.7 Cr1,768,9350.2%2.2%2.0%1.3%
Great Eastern Shipping Company Ltd.232.0 Cr2,419,9440%1.7%1.7%2.2%
Welspun Corp Ltd.145.3 Cr2,680,7270%1.0%
SIS Ltd.90.7 Cr1,994,4810%1.4%1.4%1.4%

सरकारी पेंशन फंड ग्लोबल – Government Pension Fund Global List in Hindi 

सरकारी पेंशन फंड ग्लोबल नॉर्वेजियन सॉवरेन वेल्थ फंड है जो देश की तेल आय का निवेश अंतरराष्ट्रीय वित्तीय बाजारों में करता है। इसका उद्देश्य भविष्य की पेंशन को सुरक्षित करना है, दीर्घकालिक, स्थायी निवेश रणनीतियों पर केंद्रित है। यहाँ भारत में सरकारी पेंशन फंड ग्लोबल की होल्डिंग्स हैं:

STOCKHOLDING VALUE (RS.)QTY HELDSEP 2023 CHANGE %SEP 2023 HOLDING %JUN 2023 %MAR 2023 %
Network18 Media & Investments Ltd.219.3 Cr25,025,2840.5%2.4%1.9%1.9%
Prince Pipes & Fittings Ltd.186.3 Cr2,500,0000.5%2.3%1.8%1.7%
Syngene International Ltd.591.8 Cr8,429,9540.4%2.1%1.8%1.8%
Havells India Ltd.2,005.9 Cr14,573,6970.3%2.3%2.0%2.0%
Praj Industries Ltd.140.8 Cr2,543,4000.2%1.4%1.1%1.1%
HFCL Ltd.152.5 Cr18,477,0060.2%1.3%1.1%

फर्स्ट स्टेट इन्वेस्टमेंट्स – First State Investments List in Hindi 

फर्स्ट स्टेट इन्वेस्टमेंट्स एक अंतर्राष्ट्रीय संपत्ति प्रबंधक है जो निवेश की व्यापक रेंज की रणनीतियाँ प्रदान करता है। यह एशिया-प्रशांत क्षेत्र और उभरते बाजारों पर ध्यान केंद्रित करता है, विविध निवेशक प्रोफाइलों को संबोधित करता है। यहाँ भारत में फर्स्ट स्टेट इन्वेस्टमेंट्स की होल्डिंग्स हैं:

NAMEHOLDING PERCENTHOLDING VALUE (RS.)
Solara Active Pharma Sciences Ltd.2.80%37.2 Cr
Mahindra Lifespace Developers Ltd.1.56%131.5 Cr
Heidelberg Cement India Ltd.1.37%72.8 Cr
Mahanagar Gas Ltd.1.24%147.3 Cr
Godrej Consumer Products Ltd.1.18%1,375.0 Cr

एबरडीन – Aberdeen Funds List in Hindi 

एबरडीन अंतरराष्ट्रीय निवेश में विशेषज्ञता रखता है। एबरडीन क्षेत्रीय और वैश्विक इक्विटीज, निश्चित आय, संपत्ति, और अन्य विशेषज्ञ क्षेत्रों में संपत्तियों का प्रबंधन करता है। उनकी रणनीति व्यापक वैश्विक निवेश पर केंद्रित होती है। यहाँ भारत में एबरडीन की होल्डिंग्स हैं:

  STOCK NAMEHOLDING PERCENTCHANGE FROM PREVIOUS QTRHOLDING VALUE (RS.)
Vijaya Diagnostic Centre Ltd.1.51%0.00102.1 Cr
Aegis Logistics Ltd.1.05%0.00129.2 Cr

डॉज एंड कॉक्स इंटरनेशनल स्टॉक फंड – Dodge & Cox International Stock Fund List in Hindi 

यह फंड अंतरराष्ट्रीय इक्विटीज पर केंद्रित, मूल्य-आधारित निवेश दर्शन को अपनाता है। यह विभिन्न अंतरराष्ट्रीय स्टॉक्स में निवेश करके दीर्घकालिक पूंजी मूल्यवर्धन के लिए लक्ष्य रखता है। यहाँ भारत में डॉज एंड कॉक्स इंटरनेशनल स्टॉक फंड की होल्डिंग्स हैं:

  STOCK NAMEHOLDING PERCENTCHANGE FROM PREVIOUS QTRHOLDING VALUE (RS.)
Axis Bank Ltd.2.77%0.009,114.0 Cr
ICICI Bank Ltd.2.27%-0.5512,607.8 Cr

फ्रैंकलिन टेम्पलटन इन्वेस्टमेंट्स फंड्स – Franklin Templeton Investments Funds List in Hindi 

फ्रैंकलिन टेम्पलटन इन्वेस्टमेंट्स फंड्स एक वैश्विक निवेश प्रबंधन समूह है जो व्यापक रेंज के संपत्ति प्रबंधन और निवेश सलाहकारी सेवाएं प्रदान करता है। उनका दृष्टिकोण वैश्विक निवेश जरूरतों को पूरा करने के लिए अनुकूलित है। यहाँ भारत में फ्रैंकलिन टेम्पलटन इन्वेस्टमेंट्स फंड्स की होल्डिंग्स हैं:

  STOCK NAMEQTY HELDHOLDING VALUE (RS.)
City Union Bank Ltd.7,489,929112.2 Cr
Restaurant Brands Asia Ltd.5,192,46757.1 Cr
EPL Ltd.3,322,07266.4 Cr

वैंगार्ड:

वैंगार्ड अपने कम लागत वाले इंडेक्स फंड्स और ETFs के लिए प्रसिद्ध है। एक वैश्विक निवेश प्रबंधन सेवा प्रदाता के रूप में, यह लागत कुशलता और विविध निवेश समाधानों पर ध्यान केंद्रित करता है, व्यापक रेंज के निवेशकों की सेवा करता है। यहाँ भारत में वैंगार्ड की होल्डिंग्स हैं:

STOCKHOLDING VALUE (RS.)QTY HELDSEP 2023 CHANGE %SEP 2023 HOLDING %JUN 2023 %MAR 2023 %
Indiabulls Housing Finance Ltd.235.4 Cr10,830,4271.2%2.3%1.0%1.0%
Shriram Finance Ltd.1,557.5 Cr7,608,2321.0%2.0%1.0%
Computer Age Management Services Ltd.263.2 Cr989,7751.0%2.0%1.0%1.0%
Crompton Greaves Consumer Electricals Ltd.524.9 Cr16,946,9810.1%2.6%2.6%2.6%
IDFC Ltd.458.1 Cr36,440,3360.0%2.3%2.3%2.3%
Delhivery Ltd.604.5 Cr15,520,1890.0%2.1%2.1%

विदेशी संस्थागत निवेशकों के प्रकार – संक्षिप्त सारांश:

  • विदेशी संस्थागत निवेशकों के प्रकार में हेज फंड्स, पेंशन फंड्स, म्यूचुअल फंड्स, इन्वेस्टमेंट बैंक्स, बीमा कंपनियां, सॉवरेन वेल्थ फंड्स, और एंडोमेंट्स शामिल हैं।
  • हेज फंड्स निवेशक प्रतिफल को अधिकतम करने के लिए आक्रामक रणनीतियों और जटिल उपकरणों का उपयोग करते हैं, अक्सर लिवरेजिंग में संलग्न होते हैं और कम नियमन के साथ काम करते हैं।
  • पेंशन फंड्स संरक्षक निवेश करते हैं ताकि सेवानिवृत्त लोगों के लिए स्थिर, दीर्घकालिक प्रतिफल प्रदान कर सकें, फंड की सोल्वेंसी सुनिश्चित करने के लिए बॉन्ड्स और इक्विटीज के मिश्रण पर ध्यान केंद्रित करते हैं।
  • म्यूचुअल फंड्स व्यक्तिगत निवेशकों के धन को एकत्रित करते हैं ताकि पेशेवरों द्वारा प्रबंधित विविधित पोर्टफोलियो बना सकें, एक व्यापक बाजार तक पहुंच प्रदान करते हैं।
  • इन्वेस्टमेंट बैंक्स प्रतिभूतियों के व्यापार और सलाहकारी सेवाओं में विशेषज्ञ होते हैं, आईपीओ, विलय, और अधिग्रहणों में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं और प्रतिफल प्रबंधन में निवेश करते हैं।
  • बीमा कंपनियां प्रीमियम का निवेश करती हैं ताकि प्रतिफल उत्पन्न कर सकें और भविष्य के पॉलिसीधारक दावों के लिए पर्याप्त तरलता बनाए रख सकें।
  • सॉवरेन वेल्थ फंड्स राष्ट्रीय रिजर्व का प्रबंधन करते हैं दीर्घकालिक आर्थिक स्थिरता और विकास के लिए, विदेशी और घरेलू संपत्तियों में निवेश करते हैं।
  • एंडोमेंट्स गैर-लाभकारी संस्थाओं के सतत मिशनों का समर्थन करते हैं, दीर्घकालिक वृद्धि के लिए निवेश करते हैं और शिक्षा और अनुसंधान जैसी गतिविधियों के लिए स्थिर आय प्रदान करते हैं।
  • भारत में शीर्ष 10 विदेशी संस्थागत निवेशकों में यूरोपैसिफिक ग्रोथ फंड, सिंगापुर सरकार, ओपेनहाइमर फंड्स, अबू धाबी निवेश प्राधिकरण, सरकारी पेंशन फंड ग्लोबल, फर्स्ट स्टेट इन्वेस्टमेंट्स, एबरडीन, डॉज एंड कॉक्स इंटरनेशनल स्टॉक फंड, फ्रैंकलिन टेम्पलटन इन्वेस्टमेंट्स फंड्स, और वैंगार्ड शामिल हैं।
  • एलिस ब्लू के साथ शेयरों, आईपीओ और म्यूचुअल फंड्स में निःशुल्क निवेश करें।

विदेशी संस्थागत निवेशकों के प्रकार – सामान्य प्रश्न:

1. विदेशी संस्थागत निवेशकों के प्रकार क्या हैं?

विदेशी संस्थागत निवेशकों के प्रकार में हेज फंड्स, पेंशन फंड्स, म्यूचुअल फंड्स, इन्वेस्टमेंट बैंक्स, बीमा कंपनियां, सॉवरेन वेल्थ फंड्स, और एंडोमेंट्स शामिल हैं।

2. विदेशी निवेश के 4 प्रकार क्या हैं?

यहाँ विदेशी निवेश के चार प्रकार दिए गए हैं:

प्रत्यक्ष निवेश (Direct Investment)

पोर्टफोलियो निवेश (Portfolio Investment)

अन्य निवेश (Other Investment)

वित्तीय डेरिवेटिव्स (Financial Derivatives)

3. FII के घटक क्या हैं?

FII के पोर्टफोलियो के घटक आमतौर पर इक्विटी और डेट सिक्योरिटीज का मिश्रण होते

हैं। ये निवेश विभिन्न बाजारों में किए जाते हैं, इक्विटी हिस्सेदारी के लिए कंपनियों के शेयरों पर लक्षित होते हैं या निश्चित आय के लिए बॉन्ड्स और डिबेंचर्स पर, प्राथमिक जारीकरण से लेकर द्वितीयक बाजार ट्रेडिंग तक।

4. क्या FII और FPI समान हैं?

नहीं, FII (विदेशी संस्थागत निवेशक) और FPI (विदेशी पोर्टफोलियो निवेश) समान नहीं हैं। FII संस्थागत निवेश को संदर्भित करता है, जबकि FPI व्यक्तियों और संस्थानों द्वारा विदेशी वित्तीय संपत्तियों में किए गए निवेश को दर्शाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

All Topics
Kick start your Trading and Investment Journey Today!
Related Posts

Enjoy Low Brokerage Demat Account In India

Save More Brokerage!!

We have Zero Brokerage on Equity, Mutual Funds & IPO