What is Asset Under Management Hindi

म्यूचुअल फंड में AUM क्या है? – Assets Under Management in Mutual Funds Meaning in Hindi

AUM का मतलब है ‘Asset Under Management’। यह म्यूचुअल फंड की संपत्तियों की कुल मूल्य है, जिसमें इसकी संपत्ति और दायित्व शामिल हैं। AUM उस म्यूचुअल फंड की पोर्टफोलियो में रखी गई सभी संपत्तियों के बाजार मूल्य को जोड़कर गणना किया जाता है।

म्यूचुअल फंड के लिए AUM महत्वपूर्ण है, क्योंकि इससे फंड के आकार और वृद्धि का पता चलता है। जितना अधिक AUM होता है, उतनी ही फंड की पोर्टफोलियो में विविधता होती है और उसकी संपत्तियों से आमदनी उत्पन्न करने की सामर्थ्य अधिक होती है। इसलिए AUM को म्यूचुअल फंड की मजबूती और स्थिरता का संकेत माना जाता है।

अनुक्रमणिका:

एसेट अंडर मैनेजमेंट का उदाहरण – Assets under management Example Hindi 

मान लीजिए कि एक म्यूचुअल फंड कंपनी विभिन्न प्रकार की निवेश उत्पाद प्रबंधित करती है, जैसे कि म्यूचुअल फंड, एक्सचेंज-ट्रेडेड फंड्स (ETFs) और अन्य निवेश वाहन, और इन सभी फंड्स में संपत्तियों की कुल बाजार मूल्य Rs 10 करोड़ है। तो, म्यूचुअल फंड कंपनी का AUM Rs 10 करोड़ है।

म्यूचुअल फंड्स में AUM का महत्व – Importance of AUM in Mutual Funds in Hindi 

म्यूचुअल फंड्स का प्रदर्शन सिर्फ AUM पर निर्भर नहीं करता है, बल्कि यह फंड प्रबंधक के निवेश निर्णय और बाजार की स्थितियों पर आधारित है। फंड का आकार निवेश के अवसरों पर प्रभाव डाल सकता है, लेकिन इसका प्रदर्शन पर सीधा प्रभाव नहीं पड़ता।

बड़े-कैप फंड्स में AUM का महत्व: बड़े-कैप फंड्स में, अधिक AUM निवेशकों के लिए अच्छा माना जाता है क्योंकि यह फंड की सफलता को दर्शाता है। हालांकि, अधिक AUM हमेशा अधिक लाभ का परिणाम नहीं होता।

स्मॉल-कैप फंड्स में AUM का महत्व: स्मॉल-कैप फंड्स में AUM का ज्यादा महत्व नहीं है क्योंकि ये फंड्स बड़े निवेशों से बचते हैं और SIP मॉडल पर ध्यान केंद्रित करते हैं।

डेट फंड्स में AUM का महत्व: डेट फंड्स में निवेश करते समय, AUM का महत्व है। अधिक AUM वाले फंड में खर्च को अधिक निवेशकों पर बाँटा जा सकता है, जिससे कम खर्च और अधिक लाभ होता है।

AUM म्यूचुअल फंड्स पर कैसे प्रभावित करता है? – How Does AUM Affect Mutual Funds in Hindi

यहाँ कुछ तरीके हैं जिससे AUM म्यूचुअल फंड्स पर प्रभाव डाल सकता है:

खर्च अनुपात: अधिक AUM से म्यूचुअल फंड का खर्च अनुपात कम हो सकता है, क्योंकि स्थिर खर्चों को अधिक संपत्ति पर बाँटा जा सकता है। यह निवेशकों के लिए लाभ की दर में वृद्धि का कारण बनता है।

फंड प्रबंधन: एक म्यूचुअल फंड का प्रदर्शन इसके प्रबंधक पर आधारित है। अधिक AUM से प्रबंधक को बाजार में अधिक संसाधन और स्वतंत्रता मिल सकती है।

निवेश शैली: जैसे कि म्यूचुअल फंड वृद्धि या मौलिक मूल्य पर ध्यान केंद्रित करता है, यह भी इसके प्रदर्शन पर प्रभाव डाल सकता है। AUM का म्यूचुअल फंड के प्रदर्शन पर सीधा प्रभाव हो सकता है।

विविधता: अधिक AUM से म्यूचुअल फंड अपने निवेश को अधिक प्रकार की स्टॉक्स और बॉन्ड्स में विविधित कर सकता है। यह बाजार के परिस्थितियों के प्रभाव को कम करने में मदद करता है।

म्यूचुअल फंड में AUM कैसे गणना करें? – संपत्ति अंतर्गत प्रबंधन सूत्र – How to Calculate AUM Formula in Hindi 

म्यूचुअल फंड कंपनी की संपत्ति अंतर्गत प्रबंधन (AUM) को गणना करने के लिए फंड में निवेश की कुल मौलिक मूल्य को जोड़ते हैं। इस मूल्य में निरंतर परिवर्तन होता है क्योंकि मौजूदा और नए निवेशकों से पैसे की प्रवेश और निकासी होती है, साथ ही फंड द्वारा उत्पन्न होने वाले लाभ भी। अधिक लाभ में वृद्धि AUM में वृद्धि का कारण बनती है, जबकि नकारात्मक लाभ या हिस्सों की पुनः प्राप्ति से AUM में घटाव होता है। ध्यान देना महत्वपूर्ण है कि AUM में होने वाले परिवर्तन का मतलब फंड के प्रदर्शन में परिवर्तन होना नहीं है।

शीर्ष एसेट अंडर मैनेजमेंट कंपनियां – Top Asset Management Companies List in Hindi 

2023 तक भारत में संपत्ति अंतर्गत प्रबंधन (AUM) के आधार पर शीर्ष 10 एसेट अंडर मैनेजमेंट कंपनियां (AMCs) हैं

  1. SBI Mutual Fund
  2. HDFC Mutual Fund
  3. ICICI Prudential Mutual Fund
  4. Nippon India Mutual Fund
  5. Axis Mutual Fund
  6. DSP BlackRock Mutual Fund
  7. Kotak Mahindra Mutual Fund
  8. IDFC Mutual Fund
  9. L&T Mutual Fund
  10. TATA Mutual Fund 

क्या आप म्यूचुअल फंड्स के बारे में अपने ज्ञान को विस्तारित करना चाहते हैं? हमारे पास एक ऐसी सूची है जिसमें म्यूचुअल फंड्स के बारे में जानने में मदद मिलेगी। और अधिक जानने के लिए, लेखों पर क्लिक करें।

लिक्विड म्यूचुअल फंड क्या है?
लार्ज कैप म्यूचुअल फंड क्या हैं?
फोकस्ड इक्विटी फंड क्या है?
मिड कैप म्यूचुअल फंड क्या है?
स्मॉल कैप फंड क्या हैं?
मल्टी कैप म्यूचुअल फंड क्या हैं?
कॉन्ट्रा फंड क्या है?
म्यूचुअल फंड में NAV क्या है?
म्यूचुअल फंड में SIP क्या है?
एसआईपी लाभ
इंडेक्स फंड बनाम म्यूचुअल फंड
म्युचुअल फंड की संरचना
फ्लेक्सी कैप म्यूचुअल फंड

म्यूचुअल फंड में AUM क्या है- त्वरित सारांश

  • म्यूचुअल फंड में AUM (संपत्ति अंतर्गत प्रबंधन) से मतलब है फंड की संपत्तियों की कुल बाजार मूल्य जो निवेशकों द्वारा रखी गई है।
  • उदाहरण स्वरूप, अगर एक म्यूचुअल फंड में 10 लाख इकाइयां हैं, प्रत्येक की कीमत $10 है, तो इसका AUM $10 लाख होगा।
  • म्यूचुअल फंड का AUM महत्वपूर्ण है क्योंकि यह दिखाता है कि फंड कितना बड़ा है, और यह कितना बढ़ सकता है, और यह कितना पैसा कमा सकता है।
  • AUM (संपत्ति अंतर्गत प्रबंधन) म्यूचुअल फंड्स पर विभिन्न तरीकों से प्रभावित कर सकता है। अधिक AUM फंड के व्यय अनुपात को घटा सकता है और इसकी खरीददारी क्षमता को बढ़ा सकता है, जबकि तेज़ प्रवाह फंड के प्रदर्शन पर दबाव डाल सकते हैं और फंड प्रबंधक को वापसी की मांगों को पूरा करने के लिए संपत्तियां बेचने के लिए मजबूर कर सकते हैं।
  • म्यूचुअल फंड में AUM की गणना के लिए, प्रमुख इकाइयों की संख्या को प्रति इकाई NAV (नेट ऐसेट मूल्य) से गुणा करें। परिणाम में फंड की संपत्तियों की प्रबंधित कुल मूल्य होती है।

म्यूचुअल फंड में AUM क्या है- अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न

1. म्यूचुअल फंड के लिए अच्छा AUM क्या है?

म्यूचुअल फंड के लिए अच्छा AUM कोई विशिष्ट सीमा नहीं है, क्योंकि अलग-अलग फंड के विभिन्न लक्ष्य, रणनीतियां और जोखिम स्तर हो सकते हैं। उच्च AUM एक स्थापित फंड का सूचक हो सकता है जिसमें अधिक संख्या में निवेशक हैं, लेकिन इससे बेहतर प्रदर्शन या कम जोखिम की गारंटी नहीं होती।

2. AUM अधिक होने पर क्या होता है?

जब किसी म्यूचुअल फंड का AUM अधिक होता है, तो यह आमतौर पर दिखाता है कि अधिक संख्या में निवेशक उस फंड और उसकी प्रबंधन कंपनी पर विश्वास करते हैं। हालांकि, उच्च AUM होने से बेहतर लाभ या अधिक प्रदर्शन की गारंटी नहीं होती है।

3. सबसे अधिक AUM वाला MF कौनसा है?

SBI म्यूचुअल फंड का AUM सबसे अधिक है, जो Rs. 647064.29 Cr है।

हम आशा करते हैं कि आप विषय के बारे में स्पष्ट हैं। लेकिन ट्रेडिंग और निवेश के संबंध में और भी अधिक सीखने और अन्वेषण करने के लिए, हम आपको उन महत्वपूर्ण विषयों और क्षेत्रों के बारे में बता रहे हैं जिन्हें आपको जानना चाहिए:।

सर्वश्रेष्ठ IT सेक्टर स्टॉक
खरीदने के लिए सर्वश्रेष्ठ केमिकल्स स्टॉक
डीपी शुल्क क्या हैं?
सर्वश्रेष्ठ इंट्राडे ट्रेडिंग रणनीतियाँ
सब ब्रोकर क्या होता है?
CNC और MIS ऑर्डर का अंतर
NSDL और CDSL क्या है?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

All Topics
Related Posts

Enjoy Low Brokerage Trading Account In India

Save More Brokerage!!

We have Zero Brokerage on Equity, Mutual Funds & IPO